Fri. Feb 26th, 2021

नहीं रुक रहा पीएमजीएसवाई में एक्सईएन का भ्रष्टाचार,प्रयागराज के बरियारामपुर सड़क मे 65लाख का फर्जी भुगतान,भ्रष्ट एवं घाघ एक्सियन पर चल रही कई जांच,फिर भी मिला है 2 जिलों का अतिरिक्त चार्ज,नही हुई आज तक कार्रवाई,डिप्टी सीएम,ईएनसी,चीफ से हुई शिकायत

एक्सईएन पीएमजीएसवाई एच0सी त्रिवेदी द्वारा प्रयागराज के बरिया रामपुर सड़क मामले में हुआ 65 लाख से ज्यादा का घोटाला ।

जिला प्रयागराज में निर्माण खंड 2 पीएमजीएसवाई के अंतर्गत लगभग 11.2 किलोमीटर लंबी सड़क में आवंटित हुआ 12 करोड़ की रकम ।
👉दो पैकेट संख्या यूपी 03147 एवं यूपी 03148 की चौड़ीकरण मरम्मत मामले में तीन करोड़ की धनराशि का हुआ है दुरुपयोग ।
👉 चीफ इंजीनियर जेपी पांडे द्वारा पैकेज संख्या 03148 के अतिरिक्त मद (एक्स्ट्रा आइटम) से एक करोड़ धनराशि की दी मौन स्वीकृति ,जिसमें कई अधिकारियों मे रकम हुई है बंदर बांट ।

प्रयागराज । प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत प्रयागराज में भ्रष्टाचार का आलम इस तरह जकड़ा हुआ है कि यहां पर तैनात ईमानदार अवर अभियंता द्वारा भुगतान न करने पर एक्सईएन एच0सी त्रिवेदी द्वारा 30 नवंबर 2019 को ठेकेदार को खराब गुणवत्ता एवं धीमी प्रगति के लिए पत्र संख्या 1914/1सी दिनांक 30 नवंबर 2019 को पत्र लिखा जाता है । इसी सडक पर सही तरीके से कार्य न होने पर ईमानदार जेई को भुगतान हेतु दबाव बनाया जाता है , दबाव में काम न करने पर कार्य से हटाकर उससे चार्ज छीनकर एक्सईएन ने अपने चहेते भ्रष्ट अवर अभियंता अरुण कुमार श्रीवास्तव को चार्ज देकर फर्जी तरीके से रिपोर्ट लगाकर एमबी करवाकर 65 लाख 47 हजार 7सौ 22 रू0 का फर्जी बिल बनवाकर भुगतान करा दिया है । यह भुगतान 18 दिसम्बर 2019 को करा दिया गया है ।

मजेदार बात तो यह है कि एक्सईएन ने ऐसा कौन सा जादू कर दिया कि 18 दिन के अंदर उस सड़क की प्रगति कार्य भी भुगतान लायक हो गई और फिर उसका भुगतान भी करा दिया है । यह मामला विभागों में चर्चा का विषय बना हुआ है ।

सूत्रों की माने तो एक्सईएन पीएमजीएसवाई हरिश्चन्द्र त्रिवेदी फतेहपुर में मूल रूप से तैनात है और इसे प्रयागराज और कौशांबी जनपद का अतिरिक्त चार्ज मिला हुआ है लेकिन हकीकत यह है कि कौशांबी में यह लगभग ढाई साल से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी 3 दिन भी जिले में कभी नहीं बैठा है । यहां तक कि ईएनसी ( प्रमुख अभियंता राजपाल सिंह और ग्रामीण अनिल कुमार जैन ) द्वारा जारी किए गए निर्देश है कि सभी जिलों के कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे लेकिन भ्रष्ट और जगलर एवं घाघ एक्सियन एच0सी त्रिवेदी आज तक कौशांबी जिले में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाया है क्योंकि इनकी कार्यप्रणाली सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से उजागर हो जाएगी । इस तरह बरिया रामपुर सड़क मामले में एक सबूत और कागजात यह चीख चीख कर कह रहे हैं किस सड़क में किस तरह से एक्सईएन ने 65 लाख से ज्यादा का घोटाला किया है और फर्जी बिल वाउचर बनाकर भुगतान करके रकम का बंदरबांट कर लिया है लेकिन आज तक इस मामले में तमाम लोगों की शिकायत करने के बावजूद एवं तमाम आईजीआरएस की शिकायत करने के बावजूद भी आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है ।
अब देखा जाए तो प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी की जीरो टॉलरेंस की नीति को उनके ही फरमान को नजरअंदाज करने वाले और डिप्टी सीएम केशव मौर्या के गृह जनपद में तैनात पीएमजेएसवाई के एक्सियन के भ्रष्टाचार के मामले इन लोगों को दिखाई नहीं पड़ रहा है । इसके पीछे उपरोक्त लोगों का भी कहीं न कहीं भ्रष्टाचार में लिप्त होने की बू नजर आती है ।

बता दें कि आईजीआरएस संख्या 92017500001295 दिनांक 16 जनवरी 2020 को आवेदक जगदीश सिंह मौर्य ने 60 लाख से ज्यादा रुपए के गबन की शिकायत किया था लेकिन इस मामले में उच्चाधिकारियों ने भ्रष्ट और भुगतान करने वाले एक्सियन एच0सी त्रिवेदी को ही जांच अधिकारी बना दिया है । जिसमें उसने अपने आप को निर्दोष साबित करने की रिपोर्ट और आख्या लगा कर शासन को भेज दिया है । यह मामला भी विभाग से लेकर लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है और आज तक इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं हुई है ।बता दें कि इस पैकेज की समाप्ति की अवधि बीत चुकी है लेकिन आज तक इस पर कार्य चल रहा है । अधिशासी अभियंता हरीश चंद्र त्रिवेदी ने अधिकारियों को गुमराह कर इस कार्य को कागजो पर पूर्ण दिखा दिया है लेकिन आज तक इस पर कार्य चल रहा है । देखा जाए तो 6 जुलाई 2019 को उपरोक्त का बांड बना था एवं 5 मार्च 2020 को इस कार्य की पूर्णता तिथि निर्धारित कर दी गई थी लेकिन आधे अधूरे कार्य होने के बावजूद भी आज तक यह कार्य पूर्ण नहीं है । ऐसे में यदि कुछ अधिकारियों एवं मुख्यमंत्री ने संज्ञान लेकर जांच कराई तो इस सड़क पर 12 करोड़ रकम का फर्जीवाड़ा का मामला है इसलिए 5 करोड की ऊपर की रकम के मामले मे सड़क की जांच टीएसी से कराई जा सकती है ।

अमरनाथ झा पत्रकार – 94 15 25 44 15

मुख्य ख़बरें