Fri. Feb 26th, 2021

नहीं हुई भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कोई जांच, जिले में नहीं बैठते एक्सईएन और ए0ई, प्रयागराज और लखनऊ से एक्सईएन चलिता है विभाग
====================
👉 पीएमजीएसवाई में कौशांबी, फतेहपुर, प्रयागराज में फैला भ्रष्टाचार
👉एक्सीडेंट ठेकेदार और चीफ के बीच चल रहा है रिश्तेदारी का गठजोड़, इसीलिए हर उच्च अधिकारी भी हो रहे हैं फेल
👉 अमरनाथ झां की खबर का संज्ञान लेते हुए चीफ ने कार्रवाई के लिए लिखा पत्र कुरईघाट सड़क मामले में नहीं हुई कोई जांच
👉 एसक्यूएम से जांच कराकर भुगतान कराने की प्लानिंग में जुटा एक्सियन, एसक्यूएम को भी कर देंगे गुमराह…

कौशांबी जिले में नहीं बैठ रहे पीएमजीएसवाई के अधिकारी, भ्रष्टाचार में लिप्त है विभाग। ईएनसी के आदेश के बावजूद भी नहीं लगे आज तक विभाग में सीसीटीवी कैमरे । प्रयागराज और लखनऊ से एक्सईएन चलाता है विभाग । भ्रष्टाचार में लिप्त एक्सईएन कि नहीं हुई कोई जांच,कौशांबी के कुरईघाट रोड और प्रयागराज में हुई है गड़बड़ी । चीफ के पत्र लिखने के बाद भी मामले में रफा-दफा करने में जुटा एक्सईएन । एसक्यूएम से जल्दी होगी,जांच बाद भुगतान कराने की चल रही पूरी तैयारी । अमरनाथ झा की खबर के बाद चीफ ने लिया था संज्ञान ,ठेकेदार के खिलाफ बिना बांड बने काम शुरू करने व गुणवत्ता विहीन सड़क बनाने के मामले में लिखा पत्र । ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई करने एवं काली सूची में डालने को लिखा था पत्र लेकिन एक्सईएन एच0सी त्रिवेदी ने ठेकेदार को बचाने के लिए उच्च अधिकारियों को किया गुमराह,दिया झूठी रिपोर्ट । एक्सईएन और ठेकेदार एवं चीफ के बीच चल रहा है रिश्तेदारी का गठजोड़ । रिश्तेदारी के गठजोड़ का है खेल, इसीलिए इस मामले में उच्च अधिकारी भी हो रहे हैं फेल । अब एक्सियन एक्सेस क्यूएम की जांच को पक्ष में करने के लिए राजनीति की तैयारी में जुटे कैसे भ्रष्टाचार से होगा विभाग का निवारण लोगों में बना चर्चा का विषय ।

अमरनाथ झा पत्रकार

मुख्य ख़बरें