Wed. Apr 8th, 2020

परीक्षा दे रहे हैं मुन्ना भाइयों का अजब खेल, चायल एसडीएम और सीओ भी हुए फेल ,मीडिया मे खबर उजागर होने के बाद भी फर्जी छात्रों तक नहीं पहुंच सकी पुलिस

👉 पुलिस नहीं लगा सकी मुन्ना भाइयों की असलियत की पहचान । वर्षों से चल रहा है फर्जी कैंडिडेटो द्वारा परीक्षा देने का धंधा ।
👉 मीडिया में खबरें उजागर करने के बाद भी मुन्ना भाइयों तक नहीं पहुंच सकी पुलिस

अधिकारियों ने जांच करने के नाम पर सिर्फ की है खानापूर्ति ,नहीं हुई गंभीरता से जांच नहीं तो पकड़े जाते कई मुन्ना भाई ।

कहीं-कहीं तो परीक्षा से पहले प्रश्न पत्र भी हो जाते हैं लीक आउट, यह भी बना चर्चा का विषय

कौशाम्बी । जनपद केेेे चायल तहसील क्षेत्र मे  सर्वजीत सिंह इंटर कॉलेज नोहरी के पूरा में आधा दर्जन से ज््यादा लोग दूसरे छात्रों की जगह परीक्षा दे रहे हैं ।कौशांबी वॉइस ने 24 फरवरी को फर्जी मुन्ना भाइयों के बारे में खबर प्रकाशित की थी जिस पर संज्ञान लेकर जिला प्रशासन ने एसडीएम चायल को टीम गठित कर जांच करने के लिए भेजा लेकिन मुन्ना भाइयों ने एसडीएम चायल ज्योति मौर्या और सीओ तथा चरवा पुलिस को भी गुमराह कर दिया है । फर्जी तरीके से प्रवेश पत्र में अपनी फोटो एवं फर्जी आधार के सहारे अपने आप को बचाने में कैंडिडेट सफल हो गए और अधिकारियों को बैरंग वापस लौटना पड़ा है । कल फिर 27 फरवरी को हाई स्कूल की परीक्षा में उपरोक्त सभी मुन्ना भाई परीक्षा देने के लिए पुनः बैठेंगे लेकिन जिला प्रशासन इन्हें पकड़ने में असमर्थ रहा है । अब देखना यह है कि कौशांबी वॉइस की खबर के बाद जिला प्रशासन परीक्षा दे रहे फर्जी तरीके से इन मुन्ना भाइयों की जांच करा पाता है या फिर वह अपने मंसूबे में कामयाब हो गए यह जांच का विषय है।

बता दे कि 24 फरवरी की परीक्षा में जांच करने के बाद भी नहीं पकड़ सके अधिकारी जबकि आधा दर्जन से ज्यादा छात्र दे रहे हैं दूसरे छात्रों की परीक्षा । यदि जिला प्रशासन ने कराया गम्भीरता से जांच कराई तो परीक्षा में बैठे फर्जी मुन्ना भाईयो का जेल जाना तय है । कैंडिडेटो ने प्रवेश पत्र पर अपनी फोटो और फर्जी आधार कार्ड बना कर परीक्षा दे रहे हैं  । चायल क्षेत्र के एसडीएम और सीओ ने जताई जांच करने में असमर्थता कैसे पकड़े जाएंगे फर्जी कैंडिडेट । अगर परीक्षार्थियों के ओरिजिनल डाटा चेक किया गया तो कई छात्रों का जेल जाना तय है। यह सर्वजीत सिंह इंटर कॉलेज नोहरी का पूरा चायल विद्यालय का पूरा मामला है । थाना चरवा निवासी थाना चरवा के पकसराई गांव निवासी संदीप कुमार पाल जो अपने छोटे भाई कुलदीप पाल की हाईस्कूल की परीक्षा दे रहा है । इसी प्रकार नितिन कुमार पाल की जगह चांद बाबू सरोज नामक लड़का परीक्षा दे रहा है । इसी प्रकार 5-6 और इसी गांव के छात्र दूसरे लड़कों की जगह परीक्षा दे रहे हैं लेकिन जिला प्रशासन इन्हें पकड़ने में नाकाम साबित हो रहा है।

मुख्य ख़बरें