Tue. Jul 14th, 2020

लखनऊ में ड0 अंबेडकर राष्ट्रीय एकता मंच का हुआ प्रांतीय सम्मेलन, भवन नाथ पासवान ने सभा को किया संबोधित ,कहा देश को युद्ध कि नहीं बुध की है जरूरत

लखनऊ में हुआ डॉ0 अंबेडकर राष्ट्रीय एकता मंच का प्रांतीय सम्मेलन।

प्रांतीय सम्मेलन में आए कैपिटल हॉल की क्षमता से ज्यादा मंच के पदाधिकारी एवं सदस्यों व विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि।

लखनऊ । डॉ0 अंबेडकर राष्ट्रीय एकता मंच के प्रांतीय अधिवेशन का उद्घाटन किया गया जिसमें देश के कोने-कोने से हजारों  लोगों ने भाग लिया । इस अवसर पर उपस्थित वक्ताओं ने कहा भारत को युद्ध नहीं बुद्ध चाहिए । डॉक्टर अंबेडकर राष्ट्रीय एकता मंच का प्रांतीय अधिवेशन शनिवार को कैपिटल हाल में हुआ जिसका उद्घाटन पूर्व आईएएस अधिकारी राम बहादुर ने किया ।उन्होंने कहा कि नियत साफ है तो व्यवस्था सुधार के लिए 70 साल कम नहीं होते हैं ,पूर्व शिक्षा निदेशक अमृत प्रकाश ने कहा कि शिक्षा का बजट बढ़ा दे तो रक्षा का बजट सत्र कम हो जाएगा । भारत को युद्ध की नहीं बुद्ध की जरूरत है ।

डॉक्टर अंबेडकर राष्ट्रीय एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष भवननाथ पासवान ने कहा कि देश में आजादी के बाद से अब तक दलितों और पिछड़ों को उनके हक व अधिकार नहीं मिले हैं । इस देश में राजनीति करने वाले लोग देश की गरीब और एससी एसटी ओबीसी के लोगों को उनके अधिकारों की लड़ाई नहीं लड़े हैं और अपनी स्वार्थ की राजनीति कर रहे हैं । यही वजह है कि 70 साल देश को आजाद होने के बाद भी दलितों को एवं पिछड़ों को उनका हक व अधिकार नहीं मिल सका है । उन्होंने कहा कि वक्त आ गया है कि इस समाज को एक प्लेटफार्म पर आकर संघर्ष करने की जरूरत है और बाबासाहेब डॉक्टर अंबेडकर के बताए मार्ग पर एवं बुद्ध की शिक्षाओं को अपनाकर ही देश और विश्व में शांति संभव है ।

दंपति राहुल ने कहा कि भारत के बाहर भारत की पहचान बुध की धरती के रूप में है ,भारत के संविधान के बुनियादी सिद्धांतों पर रखी गई है । अध्यक्ष पासवान ने कहा कि लोकतंत्र में था लेकिन आज के लोकतंत्र में आ रही है भारत का संविधान भारत के प्रत्येक नागरिकों को गरिमा पूर्ण जिंदगी जीने का अधिकार देता है लेकिन भारत के शासक भारत के नागरिकों को जीवित रहने की सुविधा नहीं दे पा रहे हैं । उन्होंने कहा कि 117 देशों में 102 खड़ा है  ।

मंच के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि बुद्ध बाबा साहेब को नकार कर भारत महाशक्ति नहीं बन पा सकता है । इस दौरान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधेश्याम राम ,प्रदेश महासचिव मोहम्मद हनीफ खान ,प्रदेश अध्यक्ष आसाराम सरोज, राम सजीवन प्रदेश प्रभारी, रामसिंह ,नेम सिंह बहेलिया, डॉ जयप्रकाश पाल दोहरे ,अंगूरी धारिया, विश्वराज नी बहुत शैलेश धनु राजकिशोर प्रवेश कुमार अनिल कुमार नीलमणि, नरसिंह राव ,पितांबर प्रसाद ,दीपक कुमार, सुरेंद्र कुमार ,संजय कुमार ,आदित्य वर्मा ,राकेश चंद्रा ,अमरनाथ भास्कर पासवान, डॉ धीरेन माथुर, राम भारत ,पृथ्वीराज यादव, प्रभाकर पासवान ,रामाश्रय पटेल , ज्ञान सिंह ,जितेंद्र पटेल ,बालकराम सीएल वर्मा पूर्व प्रत्याशी लोकसभा मोहनलालगंज ,आशीष कुमार ,बाबा बैजनाथ रावत, डी पी रावत ,हरिनाम सिंह वर्मा ,पूर्व प्रधान रामपाल वर्मा ,हरिप्रसाद ,दुर्गा प्रसाद ,शिवबालक ,सोहनलाल ,राम विराज रावत ,सुभाष चंद्र, गेंदालाल जी आदि हजारों की संख्या में मौजूद रहे ।

मुख्य ख़बरें