Sat. Jan 25th, 2020

रेलवे मे स्टेशनों के कार्य में ठेकेदार कर रहे हैं घोटाला ,अधिकारी अपने चेम्बर में बैठकर कर रहे हैं आराम, माघ मेले के नाम पर रेलवे में ठेकेदारों ने मचाई लूट

रेलवे इलाहाबाद में ठेकेदारों ने मचाई लूट, उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज में माघ मेले के नाम पर ठेकेदारों की खुली लूट

अधिकारी अपने चेंबरों में कर रहे आराम, बसपा के शासनकाल में पत्थरों का हुआ था खेल ,वर्तमान में रेलवे में पत्थर और लोहे का हो रहा है खेल

रेलवे इलाहाबाद में पत्थरों के नाम पर रेलवे स्टेशन पर ठेकेदार खुलेआम लूट मचा के रखे हैं ,वहीं रेलवे के अधिकारी कमरे में बैठकर आराम फरमा रहे हैं और ठेकेदारों को लूटने की खुली छूट दे रखे हैं ।

बता दें कि इलाहाबाद रेलवे के एक नंबर प्लेटफार्म की तरह यूनियन दफ्तर के बगल में जो आरसीसी सड़क बनाई जा रही है उसमें खुलेआम लूट की जा रही है ।  पुरानी बिल्डिंग की टूटी हुई और कूड़ा करकट डालकर सड़क बनाया जा रहा है और जो इस सड़क बनाने में मसाले का मानक है उसे भी पूरा नहीं किया जा रहा है ।उसके साथ साथ पत्थरों का खेल और लोहे के खेल में ठेकेदार और अधिकारी के गठजोड़ से लूट जारी है । जिन स्टेशनों पर 15-20 यात्री का भी टिकट नहीं बिकता है तथा आवागमन नहीं होता है वहां भी बम्हरौली, सूबेदार गंज आदि जैसे स्टेशनों पर करोड़ों का पुल बना दिया गया है । यहां बमरौली  स्टेशन तक  जाने के लिए जीटी रोड से  स्टेशन तक रास्ते बनाने के लिए ना तो सड़क है और ना ही बिजली की रोशनी है । ऐसे हमेशा और टूटी-फूटी सड़कों पर लोग चलने के लिए मजबूर है । इस बारे में अधिकारियों का विवेक काम नहीं कर रहा है जो बड़े बड़े संस्थानों से डिग्री लेकर आए हैं और कार्य के बारे में उनकी सूझबूझ और योग्यता पर प्रश्न चिन्ह लगता है ।

बता दें कि इलाहाबाद में लगभग 100 से ज्यादा साइड रेलवे में चल रही है जिसमें करोड़ों करोड़ों का खेल चल रहा है और सरकार के नुमाइंदे रेलवे को घाटे पर पब्लिक को संदेश देकर गुमराह कर रहे हैं और के धन से मालामाल हो रहे हैं ।

मुख्य ख़बरें