Fri. Dec 6th, 2019

विद्यालय में नहीं हो रही है पढ़ाई ,क्लास रहता है खाली- छात्र बाहर निकल कर सड़कों पर है घूमते ,बच्चों के भविष्य हो रहा खिलवाड़

शिक्षा व्यवस्था में घोर लापरवाही, स्कूल से निकलकर बाहर घूमते हैं छात्र ,तलाश में नहीं रहते टीचर

कौशाम्बी। चायल तहसील क्षेत्र के मीरपुर प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने के उद्देश्य से जाने वाले बच्चे शिक्षा प्राप्त कर यही बच्चे देश का उज्ज्वल भविष्य तय करेंगे लेकिन प्रतिदिन एक या दो शिक्षकों की अनुपस्थिति के चलते क्लास खाली रहने पर अन्य शिक्षकों के द्वारा आपस मे वार्तालाप के कारण क्लास में बैठे शिक्षा प्राप्त करने के लिए बच्चों के ऊपर सही तरीके से ध्यान नही दिया जाता है। जिस कारण बच्चे स्कूल में बैग रखकर सड़कों पर अवारा लड़कों की तरह टोली बनाकर घूमते-फिरते हुए दिखाई देते हैं ।

बच्चों को जिम्मेदार के द्वारा रोकने का प्रयास तनिक भी नही किया जा रहा है,जिससे यह साफ जाहिर हो रहा है कि शासन द्वारा तनख्वाह के रूप में भारी-भरकम वेतन उठाने वाले शिक्षक बच्चों की पढ़ाई से ज्यादा आपस मे बात-चीत करने में अधिक लीन रहते हैं।  बच्चों के भविष्य को लेकर देखा जाय तो पढ़ाई के समय रोड पर घूमना ठीक साबित नही हो सकता है। यदि पढ़ाई के समय सड़क पर घूम रहे बच्चों के साथ भविष्य में कोई घटना घट जाय तो स्कूल प्रबंधक को जवाब देना मुश्किल हो जाएगा जिससे यह साबित हो रहा है कि बच्चों के भविष्य को लेकर शिक्षक रति भर सतर्क नही हैं। बच्चों के भविष्य के साथ शिक्षक खिलवाड़ करने में कोई कोर कशर नही छोड़ रहे हैं। बच्चों को शिक्षित करने के लिए शिक्षकों के द्वारा रुचि बिल्कुल नही ली जा रही है।

सड़क पर टोली बनाकर घूम रहे बच्चों से पढ़ाई के समय रोड पर घूमने का कारण पूछा गया तो उनकी तरफ से साधारण सा जवाब आया कि क्लास खाली है पढ़ाई नही हो रही है स्कूल का गेट खुला देखकर चुपके से निकल आए हैं और हमे कोई नही देख पाया। आस-पास के लोगों से बच्चों के बारे में चर्चा की गई तो उनका कहना है कि प्रतिदिन बच्चे रोड पर घूमते हुए दिखाई देते हैं ।

मुख्य ख़बरें