Tue. Jul 14th, 2020

अनुसूचित जाति एवं जनजाति के 30 आईएएस के परीक्षा में चयनित छात्रों किया गया सम्मानित, दिल्ली के मंडी हाउस में रसिया साइंस कल्चर में हुआ कार्यक्रम

2019 में लगभग 30 आईएएस परीक्षा में चयनित छात्रों को किया है गया सम्मानित

एनएपीएस एवं एमआईपी के द्वारा छात्रों को दिया जाता है मार्गदर्शन

दिल्ली के मंडी हाउस के रसिया कल्चर साइंस बिल्डिंग में एनएपीसीएस एव एमआईपी के तहत देश के अनुसूचित जाति जनजाति एवं पिछड़े समाज के 2019 में आईएएस की परीक्षा में चयनित हुए छात्रों को सम्मानित किया गया । 24 अगस्त को हुए इस कार्यक्रम में तमाम आईएएस अधिकारियों सहित समाजसेवियो एवं बुद्धिजीवियों ने भाग लिया ।

कार्यक्रम में शामिल विवेक प्रकाश चेयरमैन रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ इलाहाबाद ने संबोधित करते हुए का की समाज को जोड़ने के लिए 2011 में एक ग्रूप से शुरुआत की गई थी और वह आज एक वृक्ष के रूप में उभरकर सामने आया है ,जो देश के कोने कोने से अनुसूचित जाति जनजाति एवं पिछड़े वर्ग के लोगों के वंचित छात्रों को आईएएस की परीक्षा में चयनित होने के लिए कई प्रकार से सहयोग कर उन्हें तरक्की करने में सहयोग करता है ।

इस कार्यक्रम में प्रधान आयकर अधिकारी प्रयागराज सुवचन राम जी ने संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहब अंबेडकर ने संविधान में जो चीजें लिखी है उसका आज सही रूप से पालन और क्रियान्वयन नहीं हो पा रहा है जिसकी वजह से दलितों पिछड़ों को न्याय नहीं मिल पा रहा है ।

इस कार्यक्रम में देश के कई प्रदेश के लोगों ने भाग लिए

मुख्य ख़बरें